शादीशुदा महिला को इश्‍क का बुखार: उसने पति और परिवार को धोखा देने के साथ-साथ पुलिस की आंखों में भी धूल झोंकी….

उतर प्रदेश देश पुलिस कार्रवाई

एक शादीशुदा महिला का इश्‍क का ऐसा बुखार चढ़ा कि उसने पति और परिवार को धोखा देने के साथ-साथ पुलिस की आंखों में भी धूल झोंक दिया।

गोरखपुर, @dainikkhabraan। गोरखपुर में एक शादीशुदा महिला का इश्‍क का ऐसा बुखार चढ़ा कि उसने पति और परिवार को धोखा देने के साथ-साथ पुलिस की आंखों में भी धूल झोंक दिया। महिला ने बैंक में अपने खाते से रुपए निकालकर प्रेमी को दे दिए और इस बात को छिपाने के लिए लूट की झूठी खबर फैला दी। मामले की छानबीन शुरू होते ही सच्‍चाई सामने आ गई और तब जेल जाने के डर से महिला ने पुलिस चौकी पर लिखित में कबूल कर लिया कि उसके साथ लूट की वारदात नहीं हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार इस महिला का पति रोजी-रोटी के लिए विदेश में मजदूरी करता है। पति ने वहां से पत्नी के खाते में रुपए भेजकर समूह आदि से लिया कर्ज चुकाने को कहा था। इस बीच प्रेमी को भी रुपयों की जरूरत पड़ी तो उसने महिला से मांग लिए।

12 अक्‍टूबर की दोपहर में महिला ने भटहट कस्बे के स्टेट बैंक की शाखास से 30 हजार रुपए निकाले और प्रेमी से मिलने चली गई। उसने इसमें से कुछ रकम प्रेमी को दे दी। इसके बाद पति को रुपयों का हिसाब ना देना पड़े इसलिए घर पहुंचने के बाद रात को करीब आठ बजे एक तीसरे व्यक्ति के जरिए पुलिस को लूट की झूठी सूचना दिलवा दी। पुलिस को सूचना दी गई कि पिपरी के पास महिला से 30 हजार रुपए लूट लिए गए हैं।

लूट की सूचना पर तुरंत हरकत में आई पुलिस ने मौके पर पड़ताल की। महिला से पूछताछ की। महिला ने पुलिस को बताया कि वह दोपहर 12 बजे रुपए निकालकर बैंक से निकली थी। इस पर पुलिस ने सवाल किया कि सिर्फ चार किलोमीटर दूर बैंक से घर आने में उसे पांच घंटे क्‍यों लगे?

महिला इसका जवाब नहीं दे सकी। इसके बाद पुलिस ने एक के बाद एक कई सवाल किए और महिला उलझती चली गई। पुलिस ने महिला का मोबाइल चेक किया तो एक व्‍यक्ति के नंबर पर कई बार फोन किया गया था।

पुलिस ने उस व्‍यक्ति की भी तफ्तीश शुरू कर दी। भेद खुलता देख महिला घबड़ा गई। उसने बुधवार की सुबह पुलिस चौकी पहुंचकर लिखित रूप से अपनी गलती कबूल कर ली। उसने पुलिस को पूरी कहानी बताई और कहा कि उसके साथ लूट की कोई घटना नहीं हुई है।